Archdiocese of Ranchi

Archdiocese of Ranchi смотреть последние обновления за сегодня на .

Archbishop Felix Toppo sj celebrates 4th Anniversary as Archbishop of Ranchi Community Gathering

2435
34
4
00:05:45
07.08.2022

Archbishop Felix Toppo sj celebrates 4th Anniversary as Archbishop of Ranchi Community Gathering

HOLY EUCHARISTIC CELEBRATION -FEAST OF ST. IGNATIUS OF LOYOLA-31 JULY 2022 SUNDAY/CATHEDRAL RANCHI

35544
677
27
02:09:26
31.07.2022

FEAST OF ST. IGNATIUS OF LOYOLA: FOUNDER OF SOCIETY OF JESUS ( JESUITS) St Ignatius Loyola (1491 - 1556) Ignatius (or Iñigo) was born in Loyola in the Spanish Basque country. He was a soldier but was wounded in the battle of Pamplona (against the French) at the age of 30. During a long convalescence, he read a life of Christ and a collection of lives of the saints and discovered that his true vocation was to devote his life wholly to God. He was as systematic about this as he had been about his military career: he spent a year’s retreat in a Dominican friary, made a pilgrimage to Jerusalem, and then set about learning Latin. Such enthusiasm in a layman caused grave suspicion in the Spanish authorities, and he was questioned and imprisoned more than once. He moved to Paris in 1528 and continued his studies, and then in 1534 Ignatius and six companions bound themselves to become missionaries to the Muslims in Palestine. By the time they were ready to set out, war made the journey impossible and so the group (now numbering ten) offered their services to the Pope in any capacity he might choose. A number of them were duly ordained and they were all assigned to various tasks. Soon it was proposed that they should organize themselves into regular religious order, and in 1540 the Society of Jesus (the Jesuits) was formed. Ignatius was the first Superior General until his death. Soon after their foundation, the Jesuits began to meet the challenge of the Reformation: a tough task, given the debilitated state into which the Church had fallen, but one which, as Ignatius said, had to be undertaken “without hard words or contempt for people’s errors”. Ignatius had a gift for inspiring friendship and was the recipient of deep spiritual insight. Soon after his conversion Ignatius wrote the Spiritual Exercises, a systematic step-by-step retreat that can be followed by anyone – and has been followed by many, not all of them Catholics, ever since.

Ranchi Archdiocese Sunday Mass Readings/Hindi/19th Sunday of Year -C/7 August 2022

1412
50
3
00:10:27
06.08.2022

Ranchi Archdiocese Sunday Mass Readings/Hindi/19th Sunday of Year -C/7 August 2022

Cardinal Telesphore P. Toppo Celebrates St. John Mary Vianney Feast and Day in Archbishop House

7469
109
7
00:08:33
07.08.2022

Cardinal Telesphore P. Toppo Celebrates St. John Mary Vianney Feast and Day in Archbishop House

Thanksgiving Jubilee Mass/Closing of Quasquicentennial(125 Years)Jubilee/St.Anne's Sisters, Ranchi

21666
477
23
02:11:41
24.07.2022

संत अन्ना की पुत्रियों के धर्मसंघ, रांची की स्थापना की 125 वीं जयंती पूरा होने पर जुबली समापन समारोह का आयोजन रांची में किया गया। संत अन्ना की पुत्रियों के धर्मसंघ रांची की स्थापना 26 जुलाई 1897 को ईश सेविका माता मेरी बेर्नादेत किस्पोट्टा के द्वारा किया गया जिनका अभूतपूर्व सहयोग माता सेसिलिया किस्पोट्टा, माता बेरोनिका किस्पोट्टा, और माता मेरी ने किया। ये मांडर प्रखंड के सरगांव निवासी रही हैं। समापन समारोह दो चरणों में सम्पन्न कराये गए। प्रथम चरण में समारोही मिस्सा - ख्रीस्तयाग संत मरिया महागिरजा, रांची में अनुष्ठान किया गया। मिस्सा के मुख्य अनुष्ठाता रांची महाधर्मप्रान्त के महाधर्माध्यक्ष फेलिक्स टोप्पो थे। सहनुष्ठाता के रूप में बिशप जुलयुस मरांडी, बिशप फुलजेन्स तिग्गा, बिशप विनय कंडुलना, बिशप आनंद जोजो, बिशप विन्सेन्ट बरवा, बिशप अन्टोनीस बड़ा, प्रशासक फादर लिनुस पिंगल एक्का, पल्ली पुरोहित फादर आनंद डेविड ख़लखो, एवं पुरोहितगणों ने सहयोग किया। इस समारोह में धर्मसंघ की सुपीरियर जेनेरल सिस्टर लीली ग्रेस, चारों प्रोविंस के प्रोविंशियलस, संत अन्ना की पुत्रियो के धर्मसंघ के धर्मबहनें, अन्य धर्मसंघ के धर्मबहनें, अतिथिगण, विश्वासीगण एवं विद्यार्थीगण एवं मांडर विधानसभा क्षेत्र के भूतपूर्व विधायक बंधु तिर्की तथा वर्तमान विधायक शिल्पी तिर्की शामिल हुए।

St. Anne's Jubilee gate inauguration/St. Anne's Mother house Ranchi/ Ranchi archdiocese

19306
238
7
00:15:10
02.08.2022

St. Anne's Jubilee gate inauguration/St. Anne's Mother house Ranchi/ Ranchi archdiocese

Feast of St. John Mary Vianney, 4th August , 6:15 AM /Holy Mass in St. Mary's Cathedral, Ranchi

37013
645
23
01:31:10
04.08.2022

John Vianney( 8 May 1786 – 4 August 1859), is venerated as Saint John Vianney, was a French Catholic priest who is venerated in the Catholic Church as a saint and as the patron saint of parish priests. We celebrate the feast of St. John Mary Vianney on 4th August.

Ranchi archdiocese Holy Eucharistic Celebration/Switzerland of Jharkhand Chiraiyan चिरैया Parish

518294
3262
115
01:10:04
04.07.2022

Chiraiyan चिरैया Parish/नावाडीह Gumla/Lichi Tree Plantation Day Cel. 3 दिनांक 03/07/2022 दिन रविवार को पहाड़ों से घिरा गुमला धर्मप्रांत के चिरैया पल्ली में बिशप थियोडोर ने गमछा फादर(फादर टौमातुर्गो )से मिल कर 2500 लीची पौधे ग्रामीणों में बांटे। चिरैया पल्ली पिलर धर्मसमाज के फादरों द्वारा संचालित है। जहां हर साल जुलाई माह के प्रथम रविवार को लोगों में पौधों का वितरण किया जाता है। इस साल फादर गमछा के अगवाई में ग्रामीणों को लीची का पौधा दिया गया। चिरंजिवि पल्ली चारों ओर से पहाड़ों से घिरा है। देखने में यह झारखंड का स्विजरैंल प्रतीत होता है।लीची पौधा के वितरण के पहले मुख्य अतिथि बिशप थियोडोर ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि पेड़ - पौधे हमारे धरोहर हैं। यदि पेड़ पौधे हैं तो हम हैं। ये हमारे पर्यावरण को शुद्ध रखते हैं। जब पर्यावरण शुद्ध रहेगा तो हम स्वस्थ रहेंगे।

New Song-पुरोहित मन केर रखवाला संत जॉन वियानी/Fr.Anil Kujur & Fr. Anjelus Ekka/Feast of John Vianney

26077
620
69
00:04:46
30.07.2022

New Song-पुरोहित मन केर रखवाला संत जॉन वियानी/Fr.Anil Kujur & Fr. Anjelus Ekka/Feast of John Vianney Lyrics & Composition: Fr. Anil Arvind Kujur Singer: Fr. Anjelus Ekka Music: Hemant Kujur Producer: Ranchi Archdiocese पुरोहित मन केर रखवाला संत जॉन वियानी, हमर लागिन बिनती कर हमर लागिन अर्जी कर आबा ईस्वर से। 1. पापी केर असरा, हमर भरोसा रौरे तो। हमर लागिन क्षमा मांगू हमर लागिन कृपा मांगू आबा ईस्वर से। 2. मुस्किल केर बेरा हमर सहारा रौरे तो। हमर लागिन बल मांगू हमर लागिन सवांग मांगू आबा ईस्वर से।

Missa Entrance song dance-आओ चलें हम वेदी के पास,येसु बुलाता अपने पास/Feast of St.Ignatius of Loyola

25452
354
22
00:10:46
31.07.2022

प्रवेश गान आओ चलें हम वेदी के पास, येसु बुलाता अपने पास गाते बजाते झूमते चलें, उनकी बड़ाई में नाचें हम -2 ताली बजाओ, ढोल बजाओ, प्रभु ईश्वर की स्तुति गाओ -2 1. सारी सृष्टि तेरी कलाकृति, सुन्दर लगे मन भाये मुझे -2 करता निवास इसी धरती में दिल से मन से कहूँ धन्यवाद -2 2. मुझको बनाया अपने ही जैसा प्रेम करना सिखाया मुझे -2 मेरी तू रक्षा करता सदा अनन्त प्रेम का तू स्वामी प्रभु -2 3. तू करता है मुझमें निवास जीवन अब तेरे चरणे तले -2 तेरी बातें अब से करूँ देखू जानूँ सब में तू प्रभू -2

New House Blessing/Assisi Bhavan Lowadih Sisiters of Franciscan Servants of Mary by Bishop Theodore

3229
36
1
00:17:13
07.08.2022

New House Blessing/Assisi Bhavan Lowadih Sisiters of Franciscan Servants of Mary by Bishop Theodore

Missa चढ़ावा गीत Dance-स्वीकारो प्रभु ये दान तुम,हमारा प्यार,प्यार का हैं प्रतीक/ St.Igantius Feast

18284
279
15
00:06:49
31.07.2022

चढ़ावा गीत स्वीकारो प्रभु ये दान तुम, हमारा प्यार, प्यार का हैं प्रतीक, चढ़ाते प्रभु हमारा जीवन, तन मन धन तुझको हो समर्पण -2 स्वीकारो प्रभु ये दान तुम, 1. जो भी है पास हमारे लाते हैं तुझको चढ़ाने -2 ग्रहण करो हे प्रभु, प्यार का ये बलिदान -2 2. ये पापी हदय हमारा, लाते हैं तुझको चढ़ाने -2 ग्रहण करो हे प्रभु, प्यार का ये बलिदान -2 3. ये सुन्दर जीव हमारा लाते हैं तुझको चढ़ाने -2 ग्रहण करो हे प्रभु, प्यार का ये बलिदान -2

RANCHI ARCHDIOCESE SUNDAY PSALM SERIES - FR. ANJELUS EKKA Twenty-second Sunday in Ordinary Time

51551
1320
125
00:03:04
24.08.2021

Responsorial Psalm Ps 15:2-3, 3-4, 4-5 Psalms स्तोत्र 15: 2-5/ R. (1a) The one who does justice will live in the presence of the Lord. Whoever walks blamelessly and does justice; who thinks the truth in his heart and slanders not with his tongue. R. The one who does justice will live in the presence of the Lord. Who harms not his fellow man, nor takes up a reproach against his neighbor; by whom the reprobate is despised, while he honors those who fear the LORD. R. The one who does justice will live in the presence of the Lord. Who lends not his money at usury and accepts no bribe against the innocent. Whoever does these things shall never be disturbed. R. The one who does justice will live in the presence of the Lord.

Ranchi Archdiocese Holy Mass/Installation of new parish priest of Jonha-Fr. Premchand Pancham Tirkey

5399
68
1
01:27:34
05.07.2022

Installation of the new parish priest of Jonha- Fr. Premchand Pancham Tirkey/ by V.G. of Archdiocese of Ranchi Fr. Sebastian Tirkey/ 3rd july 2022...

Part 2 - 17th Sunday of the Year, Holy Mass By Ranchi Archdiocese/Hindi

47152
1070
63
01:06:03
25.07.2021

For the First Part of the video click the link: 🤍 St. Mary's Cathedral, Ranchi Ranchi Archdiocese Presents Main Celebrant: His Grace Archbishop Felix Toppo Videographer : Fr. Bipin Lugun SJ Fr. Anil Arvind Kujur Br. Nikhil Online Editor: Br. Sumit Bara Singers Br. Walter P Kispotta Fr. Anjelus Kujur Br. Anmol Br. Ezekiel

Ranchi Archdiocese Sunday Psalm:94 Xtract-अच्छा हो कि आज तुम उसकी यह वाणी सुनो HarmuYouth

2619
153
43
00:04:48
29.07.2022

Ranchi Archdiocese Sunday Psalm:94 Xtract-अच्छा हो कि आज तुम उसकी यह वाणी सुनो HarmuYouth

125 Years Jubilee Song Video - St. Anne Sisters (DSA)Ranchi/Foundation of the Congregation

21288
339
24
00:03:37
23.07.2022

125 Years of Jubilee Celebration of the Foundation of the Congregation of the Daughters of St. Anne, (DSA) Ranchi

Ranchi Archdiocese Holy Mass Celebration/ Feast of Sisters of St.Joseph of Cluny/Cluny Convent Kokar

5043
74
3
01:21:33
17.07.2022

15 जुलाई २०२२ को क्लुन्नी कान्वेंट कोकर में धर्मसमाज की संस्थपिका धन्य अन्ना मेरी जवौहेय (Anne Marie Javouhey) का पर्व बड़े धूम धाम से मनाया गया! समारोह के मुख्य अनुष्ठाता रांची महाधर्मप्रांत के महाधार्माध्यक्ष फेलिक्स टोप्पो थे और उनके साथ कोकर पल्ली के पल्ली पुरोहित फा. चार्ल्स और फा. फिलमोन लकड़ा उपस्थित थे!

Ranchi Archdiocese JHAAN Bishops' Conference Visit to Jamgain Village : Fr. Constant Lievens Mission

3649
43
3
00:05:25
20.07.2022

HAAN Bishops' Conference Visit to Jamgain Village

Welcome to BishopTheodore at St.Paul's Minor Seminary Lucknow & motivational Address to Seminarians

4111
93
11
00:13:53
07.08.2022

Welcome to BishopTheodore at St.Paul's Minor Seminary Lucknow & motivational Address to Seminarians

Holy Mass/Installation of New parish priest of patrachawli parish/ ranchi archdiocese/10 July 2022

8195
95
11
01:31:28
16.07.2022

Holy Mass/Installation of New parish priest of patrachawli parish/ ranchi archdiocese/10 July 2022

ARCHDIOCESE OF RANCHI/CONFIRMATION AT HESAG PARISH HATIA/ ADIVASI WELCOME PROCESSION DANCE/26JUNE 22

15044
161
20
00:08:07
26.06.2022

राँची महाधर्मप्रांत के ख्रीस्त राजा पल्ली हेसाग में 149 बच्चों ने ढृढीकरण संस्कार ग्रहण किया । राँची महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष अति माननीय फेलिक्स टोप्पो एस जे ने ख्रीस्त राजा पल्ली हेसाग के गिरजाघर में 70 लड़कों और 79 लड़कियों को पवित्र विलेपन के तेल से ढृढिकरण संस्कार प्रदान किया

6 JANUARY/ ST. ANDRE BESSETTE/ CATHOLIC SAINTS SERIES/ ARCHDIOCESE OF RANCHI

668
16
3
00:04:25
05.01.2022

ST. ANDRE BESSETTE Beatified: Pope John Paul II Canonized: October 17, 2010, Saint Peter's Square, Rome, by Pope Benedict XVI

15th Sunday of the Year, Holy Mass By Ranchi Archdiocese

46293
1101
67
01:11:16
11.07.2021

St. Mary's Cathedral, Ranchi Ranchi Archdiocese Presents Main Celebrant: His Grace Archbishop Felix Toppo Videographer : Fr. Bipin Lugun SJ Br. Sujit Kerketta Br. Walter Kispotta Online Editor: Br. Ashim Minj Singers Fr. Anil Arvind Kujur Fr. Anjelus Kujur Fr. Ereneus Bro. Ezekiel

ARCHDIOCESE OF RANCHI : "CHRIST THE KING" HOLY MASS

829000
7027
354
01:38:00
22.11.2020

ख्रीस्त का पर्व 22.11.2020 St. Mary's Cathedral, Ranchi Celebrants: Archbishop Felix Toppo sj, Fr. Bipin Pani and Fr. Erenius Kerketta Keyboard- Bipin Minz Singers- Pradeep kujur Praveen Baxla Kumkum koel Neha kujur Saumya kujur Shipha kujur प्रवेश गान आओ चलें प्रभु के पास, दया का सागर करूणा का सागर भरता है मन का गागर, चलों चलें प्रभु के पास जीवन का दाता शांति का दाता, प्यार से बुलाता अपने पास 1. अपने वचनों से जीवन देता, प्रेम से जीना सिखाता बैरियों से प्रेम करना सिखाता, भटकों को राह दिखाता येसु तू है महान्-2 गाऊँ मैं तेरी महिमा 2. भूखों को वो रोटी खिलाता, प्यासों को अमृत पिलाता निराशों को आशा देता, पापियों को मुक्ति दिलाता येसु तू है महान्-2 गाऊँ मैं तेरी महिमा दया याचना 1. सृजनहार दया करो, पाप मिटाने वाला दया करो। री◦ शरण तुम्हारे आए हुए हम-2, दया करो - 2 अब दया करो 2. मरियम नन्दन दया करो, पालनहारा दया करो-2 3. पावन आत्मा दया करो, अन्तर्यामी दया करो-2 महिमा गान मंगलमय महिमा स्वर्ग में छाए और धरा पर भले लोगों को शांति हो शांति , मंगलमय महिमा 1. स्वर्ग का तू प्रभु सर्वशक्तिशाली, हे भगवान कितना महान् तेरा नाम प्रशंसा करते धन्य तुझे हम कहते, आदर से हम झुक जाते 2 2. ई्श का पुत्र है ख्रीस्त येसु मसीह पाप तू हरता इस जहाँ का दया निधन हमपर दया कर गाते हैं मिलकर तेरी महिमा गान-2 3. केवल तू पावन है जीवन सर्वोपरि पवित्र आत्मा संग-संग, पिता की महिमा हो-2 अन्तर भजन ख्रीस्त राजा है हमारा प्रभु, ख्रीस्त राजा है हमारा ईश्वर 1. सकल जहान में गावें उसकी महिमा-2 2. जग जड़ चेतन गावें उसकी महिमा-2 3. छोटे-बड़े हम सब गावें उसकी महिमा-2 4. जय-जय करके हम सब पुकारे अल्लेलूया-2 जयघोष अल्लेलूया स्तुति गाए हम, येसु की स्तुति गाए हम आ अल्लेलूया-6 येसु के पास आओ और मुक्ति को अपनाओ साथ वो देगा साथ चलेगा कभी नहीं छोड़ेगा। धर्मसार पुरोहित: हम स्वर्ग और पृथ्वी के सृष्टिकत्र्ता..... सब: सर्वशक्तिमान पिता परमेश्वर में विश्वास करते हैं। और उसके एकलौते पुत्र हमारे प्रभु येसु ख्रीस्त में –हम विश्वास करते हैं; - जो पवित्र आत्मा के द्वारा गर्भ में आये- और कुँवारी मरियम से जन्मे। उन्होंने पोन्तुस पिलातुस के शासन-काल में दुःख भोगा। वह क्रूस पर चढ़ाये गए, मर गए, दफनाये गए और अधोलोक में उतरे। वह तीसरे दिन मृतकों में से जी उठे, - स्वर्ग गये - सर्वशक्तिमान् पिता परमेश्वर के दाहिने विराजमान हैं। -वहाँ से जीवितों और मृतकों का न्याय करने आएँगे। हम पवित्र आत्मा, - पवित्र काथलिक कलीसिया, - धर्मियों की सहभागिता, पापों की क्षमा, शरीर के पुनरूत्थान – और अनन्त जीवन में विश्वास करते हैं। आमेन। निवेदन - हे पिता हमारी प्रार्थना सुन चढ़ावा अपना जीवन मैं समर्पण, आज करता मेरे नाथ बरसा मुझपर अपनी कृपा, द्वार खड़ा हूँ मेरे नाथ 1. तूने मुझे प्रभु जीवन दिया है, जीवन दिया और पालन किया है तू ही है प्रभु मेरा सहारा, तेरे बिना और कोई न दूजा 2. जीवन के हर पल में प्रभु जी, प्रभु जी तूने मुझे संभाला तेरी दया प्रभु तेरी कृपा, सदा सदा ही बनी रहे। 3. जब कभी मैं भटक गया था, हाथ पकड़कर तूने संभाला हर घड़ी हर पल तू रहता, ढाल बनकर मेरे नाथ। स्तुति गान हे पावन-3 प्रभु शक्तिमान भगवन् 1. पूर्ण है उसकी महिमा से स्वर्ग और धरा -2 प्रभु शक्तिमान भगवन्, ऊँचे आकाश में होसन्ना दाऊद के पुत्र को होसन्ना, होसन्ना-3 2. धन्य है वह जो आया और आने वाला है-2 प्रभु शक्तिमान भगवन् ऊँचे आकाश में होसन्ना दाऊद के पुत्र को होसन्ना, होसन्ना-3 पिता हमारे हे अब्बा पिता हमारे, जीवन है तेरे सहारे तू है प्रेमी पिता हमारा सृष्टि का पालनहारा हे अब्बा पिता हमारे... 1. इस धरा पे राज्य तेरा आवे, तेरे नाम की जय-जय होवे जैसा तू चाहे हमारे लिए, वैसा धरा पर हम पायें । 2. प्रतिदिन का आहार हमें दे, और गुनाहों को माफ कर दे क्षमा करें सबको ये कृपा दे , परीक्षा में न पड़ने दे और बचाना बुराई से-3 ईश-मेमना हे ईश्वर के बलित मेमने, तुम हर लेते पाप जगत के - 2 हमपर दया करो -2 हे ईश्वर के बलित मेमने, तुम हर लेते पाप जगत के शांति प्रदान करो-2 परमप्रसाद ख्रीस्त है राजा ख्रीस्त विजेता, ख्रीस्त शासन करता है 1. प्रभु की महती दया हमपर बनी रहती है 2. प्रभु की सत्य प्रतिज्ञता हमपर बनी रहती है 3. पिता और पुत्र और पवित्र आत्मा को सम्मान महिमा हो। 4. आदि में थी वह जैसी अब और सदा रहे । आमेन। येसु मेरे येसु तू जीवन की आशा है जिन्दगी का येसु तू मेरा सहारा है गाऊँ मैं तेरे ही गीत येसु मेरे मसीह रहूँ मैं तेरे ही संग येसु तेरे संग 1. मेरे गुनाहों को माफ तूने किया, मुझे गुलामी से माफ तूने किया आया जगत में प्यार लेके, किया जगत का उद्धार आया पिता का प्यार लेके, ऐसा मसीहा तेरा प्यार....... 2. पाप की गुलामी को लेकर, किया जगत् का उद्धार मानव का सारा दुख लेकर, दिया है प्रेम उपहार आया जगत में प्यार लेके, किया जगत का उद्धार आया पिता का प्यार लेके, ऐसा मसीहा तेरा प्यार... विर्सजन मेरे मन की सुरगों से भी आता है तेरा नाम दिल की सुख-दुख तरंगों से भी आता है तेरा नाम तब शरण में आऊँ तेरे ही गुण गाऊँ तेरी धड़कन में नित बस जाऊँ मेरे मन की सुरगों से भी आता है तेरा नाम माँ मेरी माँ, माँ प्यारी माँ, ओ माँ मेरी माँ, माँ प्यारी माँ 1. तू जो है प्यार की रागिनी, मेरे तन-मन में तू पूज्यनी पाप अँधेरे में दे रोशनी, प्रभु येसु की तू चाँदनी अपने भक्तों को दे दे जरा, तेरे दामन का शुभ आसरा तेरे चरणों में हम लाते सुरभित सुमन, तेरे दिल को रिझाने सदा

Daily Saint for 26 July/ संत अन्ना एवं संत जोआकिम/ Ranchi Archdiocese/ By Fr. Philip

3401
70
5
00:05:31
25.07.2022

Daily Saint for 26 July/ संत अन्ना एवं संत जोआकिम/ Ranchi Archdiocese/ By Fr. Philip

Ranchi Archdiocese 15th Sunday Psalm 68 Xtract -प्रभु के भक्तों में नवजीवन/St.Mary'sJunior G/10 July

10185
282
00:06:14
06.07.2022

St.Mary's Junior Group Singers - Ani Lata Kujur Pratiksha Sophia Tigga Mary Anjela Ekka Aman Ansh Ekka Octapad- Ayush Vibhash Kerketta Keyboardist - Aditya Vishal Ekka अनु. प्रभु के भक्तों में नवजीवन का संचार होगा। 1. हे प्रभु! यही उपयुक्त समय है; मैं तुझसे प्रार्थना करता हूँ। हे ईश्वर! तू दयालू और सत्यप्रतिज्ञ है, तू मेरी सुनने की कृपा कर। हे प्रभ! मुझे बचाने की कृपा कर। तू दयासागर है! मुझ पर दयादृष्टि कर। अनु. प्रभु के भक्तों में नवजीवन का संचार होगा। 2. हे ईश्वर! मैं निस्सहाय और दुखी हूँ। तेरी कृपा मुझे उपर उठाये। मैं गाते हुए ईश्वर की स्तुति करुंगा। मैं धन्यवाद देते हुए उसका गुणगान करूँगा। अनु. प्रभु के भक्तों में नवजीवन का संचार होगा। 3. दीन-हीन यह देख कर आनन्दित हो उठेंगे, प्रभु-भक्तों में नवजीवन का संचार होगा; क्योंकि प्रभु दरिद्रों की पुकार सुनता है, वह अपनी पराधीन प्रजा का तिरस्कार नहीं करता। अनु. प्रभु के भक्तों में नवजीवन का संचार होगा। 4. ईश्वर सियोन का उद्धार करेगा और यहूदा के नगरों का पुनर्निमाण करेगा। उसके सेवकों के उत्तराधिकारी वहाँ बस जायेंगे, प्रभु के भक्त वहाँ निवास करेंगे।

RANCHI ARCHDIOCESE: COVID 19 Way of the Cross from St. Mary's Cathedral Ranchi, Good Friday 3 PM

130232
2226
164
01:09:22
10.04.2020

Because of COVID 19, there will be no public Holy week Celebrations in India as there is a lockdown for sake of public health safety. Ranchi Archdiocese provides telecast of the Way of the Cross in Hindi for St. Mary's Cathedral

U.S. CONSUL AND DIPLOMATS IN ARCHBISHOP HOUSE RANCHI/15 FEBRUARY 2022/ ARCHDIOCESE OF RANCHI

10783
191
6
00:03:31
15.02.2022

U.S Consul General Ms. Melinda Pavek accompanied by Political/Economic Officer Travis Coberly, Economic Specialist Sangita Dey Chanda, Information Assistant Deepa Datta, and Foreign Service National Investigator Abijit Sharma. Archbishop Felix Toppo, Bishop Theodore Mascarenhas

बधाई गीत/पावन पुरोहिताभिषेक RANCHI ARCHDIOCESAN PRIESTS WELCOME NEWLY ORDAINED PRIEST FR. SUSHIL

187318
1475
50
00:06:56
11.05.2022

पावन पुरोहिताभिषेक/PRIESTLY ORDINATION OF FR.SUSHIL BECK/MAY8,2022/GARALODHMA LAPUNG

Part II-HOLY MASS-ईश सेवक फादर कोन्सटण्ट लीवन्स के आगमन की 137वर्षगाँठ+वार्षिक तीर्थयात्रा जमगाई

32544
353
23
02:36:53
21.03.2022

TO CONTRIBUTE TO THE NEW SHRINE BEING CONSTRUCTED IN JAMGAIN THIS IS THE ACCOUNT FOR MONEY ONLY FROM INDIA: Bank: SOUTH INDIAN BANK Kanke Road, Ranchi – 834008, Jharkhand A/c Holder: RANCHI CATHOLIC ARCHDIOCESE A/c Number A/c Number: 0474053000005807 IFSC: SIBL0000474 Please do send a message to WhatsApp number (Mobile:8757451058) or email to ranchiarchdiocese🤍gmail.com indicating clearly that the donation is towards building of the shrine. Please insist on a receipt for the amount contributed. This will help us with the accounts. for those wishing to send from abroad please write us a mail to teh above email or a message to the whatsapp number above. 137th Anniversary of the arrival of the Apostle of Chotanagpur Servant of God, Fr. Constant Lievens to our Land. He taught us to love and protect our lands, gave us hope and led us in charity to faith in Jesus Christ and his Gospel. We invite you to a pilgrimage to Jamgain village (His first centre of Evangelization) in Hulhundu Parish on Sunday 20st March 2022 with a Solemn Holy Mass. दिनांक:- 20 मार्च 2022, रविवारस्थान: - गांव जमगाई (हुल्हुंडू पल्ली ) राँची Lievens Day Holy Mass 🤍 Procession and Rosary 🤍 Short Programme 🤍

6th Sunday of Easter / Hindi Holy Mass/ Archdiocese of Ranchi / St. Mary's Cathedral, Ranchi

69713
1309
97
01:14:01
09.05.2021

6th Sunday of Easter / Hindi Holy Mass/ Archdiocese of Ranchi

बधाई गीत/पुरोहिताभिषेक/ORDINATION/ Ranchi Priests Welcoming Newly Ordained Fr. Philmon & Fr. Vijay

48212
564
19
00:07:09
16.05.2022

पुरोहिताभिषेक/ORDINATION of FR. PHILMON LAKRA: RANCHI & FR. VIJAY LINDA: SOCIETY OF PILAR

आशीर्वचन/MESSAGE TO THE CONGREGATIONS BY ARCHBISHOP FELIX TOPPO OF RANCHI ARCHDIOCESE/ CHIEF GUEST

6263
68
5
00:09:13
17.05.2022

पुरोहिताभिषेक/ORDINATION of FR. PHILMON LAKRA: RANCHI & FR. VIJAY LINDA:SOCIETY OF PILAR

Назад
Что ищут прямо сейчас на
Archdiocese of Ranchi Blogger qanday bo'lish mumkin shelleyly app candy winner dargah bade hakeem sahab ukusna jela nurhalimah Димон пубг ppg benchmark premiere pro black screen гоуст фейс apollo jeff garcelle beauvais gpu rendering railway journey ram single channel vs ram dual channel skyrim mods español milano ogoh ogoh dari koran bekas भक्ति गीत